रविवार, 30 दिसंबर 2007

माता-पिताओं के लिए साल का मेरा अन्तिम प्रवचन


कई लोग इस उसूल पर चलते हैं कि 'हम नहीं सुधरेंगे'. उनका काम चल जाता है. लेकिन अगर आप एक औसत माता-पिता हैं और सचमुच बेहतर अभिभावक साबित होना चाहते हैं तो आपको सुधरना ही पड़ेगा. साल २००८ में आप निम्नलिखित नुस्खे आजमा सकते हैं---

आप अपने बच्चों के लिए एक रोल मॉडल नहीं बन सकते; न सही। कम से कम उनके सामने छोटी-छोटी बातों पर कुत्ते-बिल्लियों की तरह उलझिये तो मत. क्रोध में भी बुरे शब्दों का इस्तेमाल बच्चों के सामने न करें.


घर में अपने बच्चों के सामने नशा-पत्ता की चीजें न पड़ने दें। उनके सामने पेप्सी-कोक जैसी वाहियात चीजें न पियें. बच्चों को सामने बिठाकर हरी-भरी चीजें खाएं. टीवी के सामने बैठकर कभी भोजन न करें और घर में दफ्तर की फाइलें मुंह पर ओढ़कर तो कभी न सोयें.


हमारी आदत होती है कि गुस्सा किसी का और निकालते हैं किसी और पर। दफ्तर का गुस्सा अक्सर हम घर आकर पत्नी पर उतारते हैं. लेकिन विशेष ध्यान रखें, गुस्सा कहीं का भी हो, बच्चों पर हरगिज न उतारें. इससे आप उन्हें मनोरोगी बना देंगे. बच्चों को अपनी संपत्ति समझकर भी हम उन्हें पीट देते हैं. यह प्रवृत्ति दूर होनी चाहिए.


बच्चों की मांगों या शिकायतों को उनकी ही नजरों से देखने की कोशिश करें। अगर वे किसी चीज की मांग कर रहे हैं, चाहे वह कितनी भी असंभव क्यों न हो, आप भड़कें नहीं. कई बार वे जननेन्द्रियों के बारे में जिज्ञासा दिखाते हैं. उन्हें इस बारे में भ्रमित न करें; न ही थप्पड़ जमाएं. हंस कर टालना भी अनुचित होगा. उचित ढंग से उनकी उत्सुकता का समाधान करें.


बच्चों के साथ ज्यादा से ज्यादा समय बिताने की कोशिश करें। अगर वे शिकायत करते हैं कि आप उन्हें पर्याप्त समय नहीं देते तो उन्हें डाँटें-फटकारें नहीं, बल्कि विनम्रता से इसका उपयुक्त कारण बताने की कोशिश करें.


रात में सोने से पहले कोई न कोई कहानी बच्चों को सुनाने की अवश्य कोशिश करें, चाहे वह अपने ही परिवार की कोई प्रशंसा भरी कहानी ही क्यों न हो। इसके लिए ख़ुद आपको पढ़ने का वक्त निकालना पड़ेगा. बार-बार किचन चमकाने से यह बेहतर ही होगा कि आप अपने बच्चों को पढ़ने-लिखने के संस्कार दें.


अगर अपने बच्चों के साथ आप साल भर बच्चों जैसे रह सके, तो आपका और उनका भविष्य उज्जवल होने के अवसर कई गुना बढ़ जायेंगे।


अजी, आजमा कर देखिये तो सही!

3 टिप्‍पणियां:

  1. बहुत बढ़िया. नववर्ष की आपको ढेरो शुभकामना

    उत्तर देंहटाएं
  2. आप हमारे धाम आए , बहुत अच्छा लगा। काम को सराहा इसका आभार। नए साल में आवाजाही बनी रहेगी।
    नया साल मंगलमय हो।

    उत्तर देंहटाएं